अगस्त को होने वाली विशाल रैली को कॉंग्रेस पार्टी अपना समर्थन देने की घोषणा करती है-देवेन्द्र यादव

नई दिल्लीपूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री पी.एल.पुनिया व पूर्व केन्द्रीय मंत्री कुमारी शैलजा के नेतृत्व में आज प्रदर्शन किया गया जिसकी अध्यक्षता कार्यकारी अध्यक्ष श्री देवेन्द्र यादव और संचालन प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता हरनाम सिंह ने की। श्री पी.एल.पुनिया ने तुगलकाबाद में स्थित600 साल पुराना गुरु रविदास मंदिर को दिल्ली विकास प्राधिकरण द्वारा तोड़े जाने की घोर निंदा की। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र भाजपा सांसद और भाजपा नेताओं का बहुल क्षेत्र है। डा. पुनिया ने बताया कि  1959 में तत्कालीन उप-प्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम जी ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था। पूर्व केन्द्रीय मंत्री कुमारी शैलजा ने कहा कि इस प्राचीन मंदिर को ध्वस्त करना गैर संगत है व दलित समुदाय बिना गुरु रविदास मंदिर की पुर्नस्थापना और मंदिर की जमीन वापस लिए संतुष्ट नही होगें। श्री देवेन्द्र यादव ने कहा कि भाजपा एक तरफ तो अयोध्या मंदिर बनाने के नाम पर धार्मिक तनाव पैदा कर रही है और दूसरी ओर दिल्ली में 600साल पुराना ऐतिहासिक गुरु रविदास मंदिर का विध्वंस करके देश भर में दलित समुदायों में तनाव बढ़ाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे भाजपा की सांप्रदायिक सौहार्द को खत्म करने व दलितों पर अत्याचार करने की नीति उजागर होती है। श्री यादव जी ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुऐ  कहा कि 21 अगस्त को होने वाली विशाल रैली को कॉंग्रेस पार्टी अपना समर्थन देने की घोषणा करती है। दिल्ली प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष श्री राजेश लिलौठिया ने कहा कि दलित समुदाय के गुरू रविदास मंदिर की पुनः स्थापना की जाऐ और उन्होंने कहा कि ऐतिहासिक गुरू रविदास मंदिर को तोड़े जाने से देशभर के दलित लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंची है। इस घटना से भाजपा की संकीर्ण दलित विरोधी नीतियां और विचारधारा उजागर होती है।  आज  के इस प्रदर्शन में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष डॉ योगानन्द शास्त्री, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव श्री तरून कुमार, पूर्व विधायक शीशपाल, जिला अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार, मदन खोरवाल, राजेश चैहान, विष्णु अग्रवाल, दिनेश कुमार, निगम पार्षद रिंकू, दर्शना जाटव, भागमल, शिवराम सिंह,हर्ष चैधरी, डी सी कपिल, भोपाल सिंह जाटव, महेश पेहवाल, राकेश बोहत, पंकज कुमार, अभिषेक सांगवान, सुरेंद्र कुमार, पंकज बागड़ी, रविदास समाज के धर्म गुरु वाग्मारे जी प्रधान ब्रहप्रकाश बुलाकी, जगदीश बडसीवाल प्रधान ऋषिपाल व सैकडो की संख्या मेँ कॉंग्रेस के कार्यकर्ता व समाजिक संगठनो के लोग मौजूद रहे।