Category - आलेख

करगिल जीत के 20 वर्ष: जवानों के शौर्य की कहानी …

बृजनन्दन राजू  8004664748 (लेखक प्रेरणा शोध संस्थान नोयडा से जुड़े हैं।) 26 जुलाई 1999 वह दिन था जब पाकिस्तान ने भारतीय सेना के आगे घुटने टेक दिए थे। सीमा पार...

“महाबली ट्रंप” की विश्वसनीयता पर लगता प्रश्नचिन्ह

तनवीर जाफ़री विश्व के सर्वशक्तिमान देश के प्रमुख राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप वैसे तो अपने विवादित बयानों को लेकर पहले भी सुर्ख़ियां बटोरते रहे हैं। उनसे जुड़े कई...

एक इन्फ्रा क्वीन का यूं चले जाना..!

एक अजीम शख्सियत, हर दिल अजीज, विरोधी भी जिनके कायल, दिल्ली की सूरत बदल देने वाली आधुनिक दिल्ली की शिल्पकार शीला दीक्षित का एकाएक जाना न केवल दिल्ली बल्कि देश...

बढ़ती किताबे, झुकते कंधे और ख़ाली होती जेबें

हाल ही में मैं अपनी आठ वर्षीय बेटी के नए शैक्षणिक सत्र के लिए कोर्स लेने गया l वो भोपाल के एक निजी स्कूल में पढ़ती है l कोर्स में 15 पुस्तकें और 13 कॉपियां थीं...

हमारी चिंता में हरियाली भी हो

—- शब्बीर कादरी —- यह सच है कि विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में हरियाली को सदैव ही रौंदा गया है। यही कारण है कि हरियाली हमारे देश में पक्के निर्माण की तुलना...